रिबन आदेश छोड़ें
मुख्य सामग्री को छोड़ें
अनुमतियाँ प्रबंधित करेंअनुमतियाँ प्रबंधित करें
|
संस्करण इतिहाससंस्करण इतिहास

शीर्षक

Html Content

उपदान

 

उपदान का कर उपचार निम्नानुसार वर्गीकृत किया जा सकता है :

(क) स्थानीय प्राधिकारी [धारा 10(10)(i)] के सरकारी कर्मचारियों और कर्मचारियों द्वारा प्राप्त उपदान। एक सरकारी कर्मचारी की स्थिति में, कोर्इ प्राप्त मृत्यु-सह-सेवानिवृत्ति ग्रेचुएटी धारा 10(10)(i) के अंतर्गत पूरी तरह से कर मुक्त है। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि सांविधिक निगम के कर्मचारी इस श्रेणी के अंतर्गत नहीं आऐंगे।

(ख) गैर-सरकारी कर्मचारियों द्वारा प्राप्त उपदान : यह श्रेणी निम्नानुसार आगे वर्गीकृत की जाएगी :

(1) उपदान अधिनियम, 1972 के भुगतान करने वाले कर्मचारियों की स्थिति में उपदान के संबंध में छूट [धारा 10(10)(ii)]

इस मामले में छूट निम्नलिखित राशियों का कम से कम होगी :

  1. वेतन के 15 दिन (*) × सेवा के वर्ष

  2. केंद्र सरकार द्वारा निर्दिष्ट अधिकतम राशि यानी रू. 10,00,000

  3. वास्तविक तौर पर प्राप्त उपदान

(2) उपदान अधिनियम, 1972 के द्वारा कर्मचारियों को भुगतान न करने की स्थिति में उपदान के संबंध में छूट [धारा 10(10)(ii)]

उपदान के संबंध में छूट निम्नलिखित का कम से कम होगी :

  1. सेवा के प्रत्येक पूर्ण वर्ष के लिए आधे महीने का औसत वेतन यानी

[औसत मासिक वेतन × ½] × सेवा के पूर्ण वर्ष

  2. केंद्र सरकार द्वारा निर्दिष्ट अधिकतम राशि यानी रू. 10,00,000

  3. वास्तविक तौर पर प्राप्त उपदान

औसत मासिक वेतन सेवानिवृत्ति के महीने (दिन नहीं) के तुरंत पहले के 10 महीनों के लिए औसत वेतन के आधार पर आंका जाना है।

 

Sort Order

Group

Category

Content Style

Notes

URL

अनुमोदन स्थिति अनुमोदित

अनुलग्नक

संस्करण:
द्वारा पर बनाया गया
द्वारा पर अंतिम बार संशोधित किया गया