एफ.नं. 225/12/2016/आर्इटीए.II

भारत सरकार

वित्त मंत्रालय

राजस्व विभाग (केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड)

 

नार्थ ब्लॉक, नर्इ दिल्ली, दिनांक 2 मर्इ, 2016

 

सेवा में,

प्रधान मुख्य आयकर आयुक्त/

प्रधान आयकर महानिदेशक

 

विषय : आयकर अधिनियम, 1961 के अंतर्गत असूचीबद्ध शेयरों के स्थानांतरण से उत्पन्न आय/हानि के कराधान की निरंतरता -संबंधी

 

सूचीबद्ध शेयरों तथा प्रतिभूतियों से आय के निरूपण के संबंध में, केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ('सीबीडीटी') ने स्पष्टीकरण परिपत्र सं. 6/2016 दिनांक 29 फरवरी, 2016 को जारी किया था, जिसमें, मुकद्मेबाजी को कम करने तथा मूल्यांकन में पहुँच को कम करने मे निरंतरता को बनाए रखने के लिए, यह निर्देशित किया गया था कि सूचीबद्ध शेयरों तथा प्रतिभूतियों के स्थानांतरण से, जिसे बारह माह से अधिक के लिए संघटित किया गया हैं शीर्षक 'पूंजीगत प्राप्ति' के अंतर्गत करोपित होगा जबतक करदाता स्वयं इन व्यापारिक शेयरों के तौर पर समझता है तथा इसकी व्यापारिक आय के तौर पर इसे स्थानांतरित करता है। यह आगे निर्दिष्ट किया था कि अन्य स्थिति में, मुद्दे को इस विषय पर केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड द्वारा जारी मौजूदा परिपत्रों के आधार पर अधिनिर्णित किया गया था।

2. इसी प्रकार, असूचीबद्ध शेयरों जिसके लिए व्यापार हेतु किसी औपचारिक बाजार मौजूद नहीं है, के स्थानांतरण से उत्पन्न आय के कर-उपचार को निर्धारित करने के लिए ऐसी आय से संबंधित मूल्यांकन को देखते हुए निरंतरता की आवश्यकता महसूस की गर्इ। तद्नुसार, यह निर्णय लिया गया कि असूचीबद्ध शेयरों के स्थानांतरण से उत्पन्न आय विवाद/मुकद्मेबाजी का परिहार करने तथा समान दृष्टिकोण को अनुरक्षित करने को देखते हुए संघटन की अवधि के बावजूद शीर्षक 'पूंजीगत प्राप्ति' के अंतर्गत विचारनीय होगा।

3. यह, हालांकि, स्पष्ट किया जाता है कि उक्त निम्न स्थितियों में लागू करना अनिवार्य नहीं होगा :

   i. असूचीबद्ध शेयरों में लेनदेनों की वास्तविकता स्वयं प्रश्नीय हो अथवा

  ii. असूचीबद्ध शेयरों का स्थानांतरण निगमित अधिकार के उत्थान से संबंधित मुद्दे से संबंधित हैं अथवा

 iii. असूचीबद्ध शेयरों का स्थानांतरण आधारभूत व्यापार के नियंत्रण तथा प्रबंधन के साथ किया जाता है

तथा निर्धारण अधिकारी ऐसी स्थिति में उपयुक्त दृष्टिकोण अपनाऐंगे।

4. उक्त को आवश्यक अनुपालन के लिए सभी के ध्यान में लाया जा सकता है

 

(रोहित गर्ग)

उप सचिव, भारत सरकार

 

निम्न को प्रति :

  1. अध्यक्ष, केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड तथा समस्त अधिकारी, केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड

  2. पीएस से राजस्व सचिव

  3. समस्त संयुक्त सचिव/आयकर आयुक्त, केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड

  4. अपर आयकर आयुक्त डाटाबेस प्रकोष्ठ विभागीय वेबसाइट पर अपलोडिंग के लिए

  5. गार्ड फाइल

 

(रोहित गर्ग)

उप सचिव, भारत सरकार