रिबन आदेश छोड़ें
मुख्य सामग्री को छोड़ें
अनुमतियाँ प्रबंधित करेंअनुमतियाँ प्रबंधित करें
|
संस्करण इतिहाससंस्करण इतिहास

Title

उत्तर

​ई-टीडीएस / टीसीएस रिटर्न ई-फाइलिंग प्रशासक द्वारा जारी किए गए डाटा फॉर्मेट में तैयार किए जाने चाहिए. यह आयकर विभाग की वेबसाइट ( www.incometaxindia.gov.in) और एनएसडीएल टिन की वेबसाइट (www.tin-nsdl.com) पर उपलब्‍ध है. डाटा संरचना के साथ एक वैधीकरण साफ्टवेयर (फाइल वैलिडेशन यूटिलिटी) है जिसे तैयार किए गये ई-टीडीएस / टीसीएस रिटर्न के डाटा संरचना को वैधीकृत करने के लिए इस्‍तेमाल किया जाना चाहिए. ई-टीडीएस / टीसीएस रिटर्न में निम्‍नलिखित विशेषताएं होनी चाहिएं :

  • हरेक ई-टीडीएस / टीसीएस रिटर्न एक अलग सीडी / पेन ड्राइव में होना चाहिए.
  • हरेक ई-टीडीएस / टीसीएस रिटर्न के साथ भौतिक रूप में विधिवत् भरा हुआ और हस्‍ताक्षरित (प्राधिकृत हस्‍ताक्षरकर्ता द्वारा) फॉर्म सं. २७ए होना चाहिए. १ फरवरी २०१ ४ से टीडीएस / टीसीएस एफवीयू (फाइल वैलिडेशन यूटिलिटी) द्वारा उत्‍पन्‍न फॉर्म २७ए प्रस्‍तुत करना अनिवार्य है.
  • ई-टीडीएस / टीसीएस रिटर्न एक सीडी / पेन ड्राइव में होना चाहिए. यह बहु कंप्‍यूटर मीडिया में फैला नहीं होना चाहिए.
  • यदि हरेक ई-टीडीएस रिटर्न फाइल संपीडित (कम्‍प्रेस्‍ड) होनी चाहिए तो इसे Winzip ८.१ या ZipltFast ३.० या इससे उच्‍च वर्जन के कम्‍प्रेशन यूटिलिटी का प्रयोग करते हुए संपीडित (कम्‍प्रेस) किया जाना चाहिए ताकि फाइल की त्‍वरित तथा निर्बाध स्‍वीकृति सुनिश्चित की जा सके.
  • फार्म सं. २७ए में कोई उपरिलेखन या काट-कूट न हो. यदि कोई उपरिलेखन या काट-कूट है तो उसकी प्राधिकृत हस्‍ताक्षरी द्वारा अभिपुष्टि की जानी चाहिए.
  • ई-टीडीएस / टीसीएस रिटर्न के साथ कोई बैंक चालान या टीडीएस/टीसीएस प्रमाणपत्र की प्रति संलग्‍न नहीं की जानी चाहिए.
  • सीडी / पेन ड्राइव वाइरस – मुक्‍त होना चाहिए.

यदि इनमें से कोई भी अपेक्षा पूरी नहीं होती है तो ई-टीडीएस / टीसीएस रिटर्न को टिन – एफसी में स्‍वीकार नहीं किया जाएगा.

Group

प्रश्न

टैगिंग

सक्रिय

समानार्थक शब्द

AskIt में दिखाएँ

टिप्पणी

पूछे जाने वाले प्रश्न में दिखाएँ

विषय

वर्ग

सॉर्ट क्रम

अनुमोदन स्थिति अनुमोदित

अनुलग्नक

संस्करण:
द्वारा पर बनाया गया
द्वारा पर अंतिम बार संशोधित किया गया